🏏 पाकिस्तानी क्रिकेट फैंस और पत्रकारों को वीजा देरी से मिलने पर भड़का PCB😡 ICC से जताई चिंता!😳 World Cup 2023 Cricket News in hindi

🔍 भारत की यात्रा करने वाले पाकिस्तानियों के लिए वीज़ा में देरी: PCB ने गंभीर चिंता जताई!

हाल के घटनाक्रम में, पीसीबी बॉस जका अशरफ ने भारत में विश्व कप की यात्रा करने की योजना बना रहे पाकिस्तान क्रिकेट प्रशंसकों और पत्रकारों को वीजा जारी करने में लगातार देरी के बारे में “गंभीर चिंता और चिंता” व्यक्त की है। पीसीबी (पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड) ने एक सार्वजनिक बयान में आईसीसी (अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) के साथ इस मुद्दे को औपचारिक रूप से संबोधित किया है, जो उस मुद्दे पर प्रकाश डालता है जो पिछले कुछ समय से पाकिस्तान में अशांति का कारण बन रहा है।

पृष्ठभूमि:

पाकिस्तान की क्रिकेट टीम पहले ही विश्व कप में नीदरलैंड के खिलाफ हैदराबाद में एक मैच खेल चुकी है। श्रीलंका के खिलाफ उनका अगला मैच मंगलवार को उसी स्थान पर होना है। हालाँकि, 14 अक्टूबर को अहमदाबाद में भारत के साथ उनकी बहुप्रतीक्षित भिड़ंत को लेकर एक महत्वपूर्ण चिंता बनी हुई है। फिलहाल, ऐसा लग रहा है कि वीजा में देरी के कारण स्टेडियम और प्रेस बॉक्स में पाकिस्तानियों की न्यूनतम उपस्थिति हो सकती है।

🏏 पाकिस्तानी क्रिकेट फैंस और पत्रकारों को वीजा देरी से मिलने पर भड़का PCB😡 ICC से जताई चिंता!😳 World Cup 2023 Cricket News in hindi

PCB की कार्रवाई:

जका अशरफ ने इस मुद्दे को सुलझाने के अपने प्रयासों में, पाकिस्तान के विदेश सचिव साइरस सज्जाद काजी से मुलाकात की है और अनुरोध किया है कि इस मामले को भारत के गृह मंत्रालय के साथ उठाया जाए। पीसीबी ने आईसीसी विश्व कप 2023 में पाकिस्तान के मैचों को कवर करने के लिए भारतीय वीजा प्राप्त करने में पाकिस्तानी पत्रकारों और प्रशंसकों के सामने आने वाली अनिश्चितता को लेकर अत्यधिक निराशा व्यक्त की है।

बोर्ड के एक बयान में कहा गया, “पीसीबी यह देखकर बेहद निराश है कि पाकिस्तान के पत्रकारों और प्रशंसकों को आईसीसी विश्व कप 2023 में पाकिस्तान खेलों को कवर करने के लिए भारतीय वीजा प्राप्त करने के बारे में अभी भी अनिश्चितता का सामना करना पड़ रहा है।” “इस बीच, पीसीबी ने फिर से आईसीसी और बीसीसीआई को उनके संबंधित दायित्वों की याद दिलाई है।”

सुरक्षा संबंधी चिंताएँ:

इसके अतिरिक्त, पीसीबी ने भारतीय मीडिया में रिपोर्ट किए गए सुरक्षा खतरों पर ध्यान दिया है और सरकार से उनकी भलाई और सुरक्षा के सर्वोपरि महत्व पर जोर देते हुए, भारत में पाकिस्तानी दस्ते की सुरक्षा का आकलन करने का अनुरोध किया है।

ICC और BCCI का आश्वासन:

पीसीबी के पूर्व अध्यक्ष और आईसीसी अध्यक्ष एहसान मणि ने पाकिस्तान में एक स्वतंत्र पत्रकार से बात की, जिसमें बताया गया कि आईसीसी और बीसीसीआई ने पहले आश्वासन दिया था कि पाकिस्तानी नागरिकों के लिए वीजा कोई मुद्दा नहीं होगा। आईसीसी आयोजनों के लिए मेजबानी समझौतों में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि मेजबान देश टीमों, अधिकारियों, पत्रकारों और प्रशंसकों के लिए वीजा की सुविधा के लिए जिम्मेदार है। मणि ने विश्व कप शुरू होने से पहले वीजा मुद्दों का समाधान सुनिश्चित नहीं करने पर आईसीसी पर निराशा व्यक्त की।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि टूर्नामेंट के लिए पाकिस्तान क्रिकेट टीम का वीजा उनके निर्धारित प्रस्थान से ठीक एक दिन पहले जारी किया गया था, जिसके परिणामस्वरूप दुबई में विश्व कप पूर्व प्रशिक्षण शिविर रद्द कर दिया गया था। टीम 27 सितंबर से हैदराबाद में है, जहां पहुंचने पर उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया।

यह स्थिति न केवल साजो-सामान संबंधी चुनौतियों के बारे में बल्कि क्षेत्र में खेल कूटनीति पर व्यापक प्रभाव के बारे में भी चिंता पैदा करती है। चूंकि क्रिकेट प्रशंसक पाकिस्तान और भारत के बीच बहुप्रतीक्षित मुकाबले का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, ऐसे में यह सवाल अनिश्चित बना हुआ है कि क्या पाकिस्तानी समर्थक और पत्रकार इस आयोजन को व्यक्तिगत रूप से देख पाएंगे।

सारांश बिंदु (Summary Points)

  1. वीजा में देरी चिंता का कारण : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) ने भारत में आईसीसी विश्व कप के लिए यात्रा करने वाले पाकिस्तानी क्रिकेट प्रशंसकों और पत्रकारों को वीजा जारी करने में देरी पर “गंभीर चिंता और चिंता” व्यक्त की है।
  2. पृष्ठभूमि : पाकिस्तान की क्रिकेट टीम पहले ही विश्व कप का एक मैच हैदराबाद में खेल चुकी है और उसे श्रीलंका के खिलाफ खेलना है। भारत के खिलाफ बहुप्रतीक्षित मैच में वीजा में देरी के कारण स्टेडियम में पाकिस्तानियों की न्यूनतम उपस्थिति देखी जा सकती है।
  3. पीसीबी की कार्रवाई : पीसीबी के जका अशरफ ने पाकिस्तान के विदेश सचिव से मुलाकात कर भारत के गृह मंत्रालय के साथ वीजा मुद्दे पर कार्रवाई का अनुरोध किया। बोर्ड ने आईसीसी और बीसीसीआई को भी उनके दायित्वों की याद दिलाई.
  4. सुरक्षा संबंधी चिंताएँ : पीसीबी भारतीय मीडिया में कथित सुरक्षा खतरों से चिंतित है और उसने भारत में पाकिस्तानी दस्ते की सुरक्षा के आकलन का अनुरोध किया है।
  5. आईसीसी और बीसीसीआई का आश्वासन : पीसीबी के पूर्व अध्यक्ष एहसान मणि ने निराशा व्यक्त की कि आईसीसी और बीसीसीआई ने वीजा सुविधा का आश्वासन दिया था, लेकिन विश्व कप से पहले इस मुद्दे को हल करने में विफल रहे।
  6. अंतिम मिनट का वीज़ा : पाकिस्तान की क्रिकेट टीम को उनके निर्धारित प्रस्थान से ठीक एक दिन पहले टूर्नामेंट के लिए वीज़ा मिला, जिसके कारण विश्व कप पूर्व प्रशिक्षण शिविर रद्द कर दिया गया।
  7. अनिश्चितता मंडरा रही है : यह स्थिति पाकिस्तानी समर्थकों और पत्रकारों की बहुप्रतीक्षित पाकिस्तान बनाम भारत मैच में भाग लेने की क्षमता पर सवाल उठाती है, जिससे क्षेत्र में खेल कूटनीति पर असर पड़ता है।
  8. आकर्षक शीर्षक और इमोजी : [प्रासंगिक इमोजी और एक आकर्षक क्लिकबेट शीर्षक यहां डालें] 🏏🇵🇰🇮🇳

कुछ अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

1. पाकिस्तानी क्रिकेट प्रशंसकों और पत्रकारों को भारत में ICC विश्व कप के लिए वीजा में देरी का सामना क्यों करना पड़ रहा है?

पाकिस्तानी क्रिकेट प्रशंसकों और पत्रकारों को भारत में होने वाले आईसीसी विश्व कप के लिए वीजा में देरी का सामना करना पड़ रहा है, जिससे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) में चिंता बढ़ गई है।

2. वीज़ा में देरी को दूर करने के लिए PCB ने क्या कार्रवाई की है?

PCB के जका अशरफ ने पाकिस्तान के विदेश सचिव से मुलाकात कर भारत के गृह मंत्रालय के समक्ष वीजा मुद्दे को उठाने में सहायता का अनुरोध किया है। पीसीबी ने इस मामले में आईसीसी और बीसीसीआई को भी उनके दायित्वों की याद दिलाई है.

3. क्या इस मुद्दे से संबंधित कोई सुरक्षा चिंताएँ हैं?

हां, पीसीबी ने भारतीय मीडिया में रिपोर्ट किए गए सुरक्षा खतरों पर ध्यान दिया है। उन्होंने सरकार से उनकी सुरक्षा के महत्व पर जोर देते हुए भारत में पाकिस्तानी दस्ते की सुरक्षा का आकलन करने का अनुरोध किया है।

Leave a Comment